25 को जिले में प्रवेश करेगी एकात्म यात्रा - प्रबल सृष्टि - मध्य प्रदेश के कटनी जिले का समाचार पत्र

प्रबल सृष्टि - मध्य प्रदेश के कटनी जिले का समाचार पत्र

अज्ञानता अंधकार की निशानी है - ज्ञान उजाले का - कटनी जिले का समाचार पत्र - संपादक - मुरली पृथ्यानी

Hot

Thursday, December 21, 2017

25 को जिले में प्रवेश करेगी एकात्म यात्रा

कटनी / 19 दिसंबर से प्रारंभ होकर 22 जनवरी तक चलने वाली एकात्म यात्रा की तैयारियां जिले में जोरो-शोरों से जारी हैं। जनमानस तक एकात्म वेदान्त का संदेश देने वाले आदि शंकराचार्य की प्रतिमा के लिये धातु संग्रहण के लिये होने वाली एकात्म यात्रा, जनजागरण अभियान बने, इस दिशा में कार्य किया जा रहा है।

            उल्लेखनीय है कि 25 दिसंबर को अमरकंटक से प्रारंभ हुई एकात्म यात्रा जिले में प्रवेश करेगी। जिसकी तैयारियों का जायजा लेने गुरुवार को कलेक्टर विशेष गढ़पाले विलायतकला के पास यात्रा प्रवेश स्थल में पहुंचे। साथ ही वहां से बड़वारा तक के रुट का जायजा भी लिया। इस दौरान उन्होने पड़ोसी जिले उमरिया से कटनी में यात्रा के प्रवेश स्थल की व्यवस्थायें भी जानीं। उन्होने जन अभियान परिषद् के जिला समन्वयक आनन्द पाण्डेय को बेहतर आयोजन और यात्रा के भव्य स्वागत के लिये स्पॉट पर ही निर्देशित किया। कलेक्टर ने कहा कि यात्रा का स्वागत भव्य होना चाहिये। इसके लिये हम अभी से तैयारियों में जुटें। इस दौरान तहसीलदार बड़वारा एन्तोनिया एक्का वानखेड़े भी मौजूद थीं।

            गौरतलब है कि यह यात्रा 25, 26, 27 और 28 दिसंबर तक जिले में रहेगी। सम्पूर्ण प्रदेश में 4 जोनों से यह यात्रा प्रारंभ की हो चुकी है। जिसमें आदिगुरु शंकराचार्य की मूर्ति निर्माण के लिये धातु संग्रह किया जायेगा। चार जोन ओंकारेश्वर, उज्जैन, अमरकंटक और पचमठा है।

            जिले में अमरकंटर से प्रारंभ हुई एकात्म यात्रा 25 दिसंबर को पहुंचेगी। बड़वारा के विलायतकला के पास से इसका आगमन जिले में होगा। जिसके बाद बरही के बाद कैमोर पहुंचकर यात्रा रात्रि विश्राम करेगी। 26 दिसंबर को विजयराघवगढ़ में जनसंवाद होगा। जिसके बाद कन्हवारा, चाका और नगर निगम क्षेत्र होते हुये हाउसिंग बोर्ड मैदान में मुख्य कार्यक्रम आयोजित होगा। 27 दिसंबर को रीठी, देवगांव, बिलहरी, स्लीमनाबाद और बहोरीबंद पहुंचकर यात्रा का रात्रि विश्राम होगा। जिसके बाद 28 दिसंबर को सिंदुरसी होते हुये दोपहर में अमरगढ़ यात्रा जायेगा। जहां से जबलपुर जिले में इसका प्रवेश होगा। जिले में यात्रा की अगवाई पूज्यनीय हरिहरानंद महाराज करेंगे। यात्रा के दौरान विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन भी होगा।

No comments:

Post a Comment