कलेक्टर ने खराब परफॉर्मेन्स पर नाराजगी जताई, ग्रामीण विकास विभाग के अमले को आवश्यक तैयारियां पूर्ण करने के निर्देश - प्रबल सृष्टि - मध्य प्रदेश के कटनी जिले का समाचार पत्र

प्रबल सृष्टि - मध्य प्रदेश के कटनी जिले का समाचार पत्र

अज्ञानता अंधकार की निशानी है - ज्ञान उजाले का - कटनी जिले का समाचार पत्र - संपादक - मुरली पृथ्यानी

Hot

Friday, May 04, 2018

कलेक्टर ने खराब परफॉर्मेन्स पर नाराजगी जताई, ग्रामीण विकास विभाग के अमले को आवश्यक तैयारियां पूर्ण करने के निर्देश

कटनी / अपने निरीक्षण में कलेक्टर श्री चौधरी बड़वारा जनपद के दूरस्थ ग्राम पंचायत करेला और खितौली पहुंचे। जिसके बाद वे विजयराघवगढ़ जनपद की ग्राम पंचायत बंजारी और कारीतलाई पहुंचकर ग्रामों में किये जा रहे कार्यों की स्थिति जानी। इस दौरान जिला पंचायत सीईओ फ्रेंक नोबल ए भी मौजूद थे।

         कलेक्टर श्री चौधरी ने इन ग्राम पंचायतों के सचिवों और जीआरएस से संबंधित ग्रामों में प्रधानमंत्री आवास और स्वच्छ भारत मिशन के तहत बनाये जा रहे शौचालय निर्माण की जानकारी ली। जहां कलेक्टर ने खराब परफॉर्मेन्स पर नाराजगी जताई। वहीं कोताही बरतने वाले लोकसेवकों पर कार्यवाही के निर्देश भी विजिट में कलेक्टर श्री चौधरी ने दिये।

            खितौली और बंजारी में पीएमएवॉय और शौचालय निर्माण की खराब प्रगति पर कलेक्टर श्री चौधरी संबंधित ग्राम पंचायतों के सचिवों पर कार्यवाही के निर्देश दिये। जिसमें खितौली ग्राम पंचायत के सचिव की दो वेतनवृद्धि और बंजारी में सचिव की एक वेतनवृद्धि रोकने के निर्देश कलेक्टर श्री चौधरी ने दिये। इसके साथ ही उन्होनें चारों ग्राम पंचायतों में इन योजनाओं के तहत निर्माण कार्य में गति लाने के लिये निर्देशित किया। कलेक्टर ने कहा कि जिन हितग्राहियों को प्रधानमंत्री आवास और शौचालय स्वीकृत हुआ है, उनका निर्माण शीघ्र प्रारंभ कराकर पूर्ण करायें। इस कार्य में कोताही बर्दाश्त नहीं की जायेगी।

            कलेक्टर श्री चौधरी अपने विजिट में निर्माण कार्य प्रारंभ ना करने वाले हितग्राहियों को नोटिस जारी कर उनकी पेशी संबंधित तहसीलदार न्यायालय में लगाने के निर्देश दिये। कलेक्टर श्री चौधरी ने कहा कि इस दौरान संबंधित ग्राम पंचातयों के सचिवों को पेशी में बुलायें और निर्माण कार्य की पेंडेन्सी का रिव्यू करें। साथ ही आवश्यकता हो, तो तहसीलदार, एैसे डिफाल्टर्स पर कार्यवाही भी करें।

            वहीं कलेक्टर श्री चौधरी ने नवीन स्वीकृत आवासों का रिव्यू भी अपने विजिट में किया। इस दौरान कलेक्टर ने ग्रामीणों को जारी प्रथम और द्वितीय किश्त की जानकारी ली। साथ ही ग्रामीणों को निर्माण कार्य शुरु करने के लिये प्रेरित भी किया। उन्होने कहा कि जिन्हें आवास निर्माण की राशि की पहली और दूसरी किश्त मिल चुकी है, वे हर हाल में निर्माण कार्य प्रारंभ कर पूर्ण करें।

            अपने निरीक्षण में कलेक्टर ने श्रमिक पंजीयन, मजदूरी भुगतान का भी रिव्यू किया। इसके साथ ही 7 मई को ग्राम सभाओं के आयोजन को लेकर भी ग्रामीण विकास विभाग के अमले को आवश्यक तैयारियां पूर्ण करने के निर्देश दिये।

            ग्रामों के विजिट के दौरान कलेक्टर श्री चौधरी ग्रामीणों से भी रु-ब-रु हुये। इस दौरान उन्होने ग्रामीणों को भी एसबीएम और पीएमएवॉय के निर्माण के लिये प्रेरित किया। वहीं केन्द्र सरकार व राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी भी विस्तार कलेक्टर ने ग्रामीणों को दी। जिसमें उन्होने असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों, जननी सुरक्षा, प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना आदि योजनाओं के विषय में बताया। साथ ही इन योजनाओं के तहत हितग्राहियों को दिये जाने वाले लाभ की जानकारी भी विस्तार से ग्रामीणों को कलेक्टर श्री चौधरी ने बताई। इस दौरान विजिट में एसडीएम धमेन्द्र मिश्रा, संबंधित तहसील के तहसीलदार, जनप्रतिनिधि व अन्य संबंधित अधिकारी भी मौजूद थे।

No comments:

Post a Comment