2014 - प्रबल सृष्टि - मध्य प्रदेश के कटनी जिले का समाचार पत्र

प्रबल सृष्टि - मध्य प्रदेश के कटनी जिले का समाचार पत्र

अज्ञानता अंधकार की निशानी है - ज्ञान उजाले का - कटनी जिले का समाचार पत्र - संपादक - मुरली पृथ्यानी

Hot

Thursday, December 18, 2014

पंचायत चुनावों की प्रक्रिया का एक दिवसीय प्रशिक्षण सम्पन्न

December 18, 2014 0

कटनी/  जिला पंचायत सभागार में आज प्रातः 11 बजे से त्रि-स्तरीय पंचायत आम निर्वाचन के तहत आर.ओ/ए.आर.ओ का एक दिवसीय प्रशिक्षण सम्पन्न हुआ। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी विकास सिंह नरवाल ने इस अवसर पर उपस्थित सभी आर.ओ/ए.आर.ओ को प्रशिक्षण प्रदान करते हुये कहा कि वे राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देशो का पालन करें। निर्वाचन की प्रत्येक प्रक्रिया को भलि भांति समझे और उप पर त्वरित अमल करें। मतदान दलो के प्रशिक्षण के दौरान भी आवश्यक व्यवस्थायें करायें।
        सिंगल विन्डोज सिस्टम एवं कन्टोªल रूम व्यवस्था अदेय प्रमाण पत्र तैयार करने हेतु विकास खण्ड मुख्यालय में स्थापित करे । नाम निर्देशन कार्यवाही की तैयारी सूचना पटल , फ्लेक्स, प्रचार प्रसार , एआरओ की बैठक व्यवस्था एवं नियुक्ति व स्टाप उपलब्ध कराते हुये टी.टी से संबंधित व्यवस्था करायेंगे।
        यूआरएल में आरओ डायरी का अपडेशन करें। प्रपत्र 25 , 26 एवं 29 क्रमशः एमसीसी , कम्पलेन्ट , प्रतिबंधात्मक कार्यवाही प्रतिदिन भरी जावे। बल्नरेबिल्टी एवं क्रिटिकल मेपिंग की जानकारी प्रपत्र 1 व 2 में तत्काल देवें जिससे यूआरएल में फीडिंग करायी जा सके। मतदान दलो के प्रशिक्षण के दौरान सभी तरह की आवश्यक व्यवस्थाये सुनिश्चित करायेंगे । मतदान केन्द्रो की अपडेटेड जानकारी मतदाता संख्यावार उपलब्ध करावें । एवं आरओ/एआरओ यह सुनिश्चित करें कि प्रतिदिन उपजिला निर्वाचन कार्यालय में सम्पर्क कर उनका कर्मचारी आवश्यक सूचनायें डाक एवं निर्देश प्राप्त करें।
        आरओ/एआरओ को एडीएम  दिनेश श्रीवास्तव , जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डाॅ केडीत्रिपाठी , उपजिला निर्वाचन अधिकारी  जितेन्द्र सिंह एवं मास्टर ट्रेनर्स द्वारा भी प्रशिक्षण तैयार किया गया । अवसर पर सभी अनुविभाग के अनुविभागीय अधिकारीगण , सभी तहसीलदार एवं अन्य सभी संबंधित अधिकारीगण उपस्थित थे।

Read More

ISRO ने लॉन्च किया GSLV मार्क 3, अब इंसान को अंतरिक्ष में भेजना होगा आसान

December 18, 2014 0
भारत अब तक के अपने सबसे वजनी और अगली पीढ़ी के रॉकेट 'भूस्थिर उपग्रह प्रक्षेपण यान' (जीएसएलवी-मार्क3) का गुरुवार 18 दिसंबर को परीक्षण हुआ. इस लॉन्च के साथ ही इंसान को अंतरिक्ष भेजना आसान हो जाएगा. यह यान अपने साथ क्रू मॉड्यूल भी लेकर जाएगा, लेकिन यह मानव रहित होगा.
वहीं, इसके लॉन्च के साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वैज्ञानिकों को बधाई दी.
श्रीहरिकोटा में सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र के निदेशक एम. वाई. एस प्रसाद ने बताया, 'रॉकेट के परीक्षण की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है. परीक्षण से संबंधित सभी काम पूरे किए जा चुके हैं. रॉकेट का परीक्षण गुरुवार सुबह 9.30 बजे हुआ.' प्रसाद ने बताया कि 630 टन वजनी इस रॉकेट को तरल एवं ठोस ईंधन से ऊर्जा दी गई. उन्होंने बताया कि रॉकेट लांच की उल्टी गिनती के दौरान रॉकेट के तरल ईंधन इंजन में ईंधन भरा गया और निष्क्रिय क्रायोजेनिक इंजन को तरल नाइट्रोजन से भरा गया. प्रसाद ने इससे पहले बताया कि रॉकेट की इलेक्ट्रॉनिक प्रणाली को बुधवार देर रात एक बजे चालू गया. इस प्रायोगिक अभियान में 155 करोड़ रुपये की लागत आई है. परीक्षण में रॉकेट के साथ उपग्रह नहीं भेजा गया, क्योंकि वास्तविक क्रायोनिक इंजन इस समय निर्माणाधीन है. लगभग चार टन वजनी उपग्रह को अंतरिक्ष में ले जाने के लिए तैयार किए गए रॉकेट को ऊर्जा आपूर्ति करने वाला वास्तविक क्रायोजेनिक इंजन इस समय निर्माणाधीन है और इसके दो सालों में तैयार हो जाने की उम्मीद है.
रॉकेट के साथ भेजे गए क्रू मॉड्यूल का परीक्षण इसके पुन:प्रवेश उड़ान और पैराशूट प्रणाली के सत्यापन के लिए किया गया. परीक्षण अभियान के तहत अंतरिक्ष में 126 किलोमीटर ऊंचाई तक पहुंचने के बाद रॉकेट क्रू माड्यूल कैप्सूल को अलग कर देगा और इसके 20 मिनट बाद क्रू माड्यूल कैप्सूल पोर्ट ब्लेयर से 600 किलोमीटर एवं अंतरिक्ष केंद्र से 1,600 किलोमीटर दूर बंगाल की खाड़ी में गिरेगा, जहां से भारतीय तट रक्षक या भारतीय नौसेना के जहाज उसे तट तक लाएंगे.
चार टन वजनी क्रू मॉड्यूल का आकार किसी विशाल कप केक के जैसा है, जो ऊपर से काले और बीच से भूरे रंग का है. भारत अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन के एक अधिकारी ने बताया कि यह किसी छोटे शयनकक्ष के आकार का होगा, जिसमें दो या तीन लोगों की जगह होगी. प्रसाद ने बताया कि बंगाल की खाड़ी से क्रू माड्यूल को लाने के बाद इसे पहले एन्नोर बंदरगाह पर लाया जाएगा और वहां से इसे श्रीहरिकोटा पहुंचाया जाएगा. श्रीहरिकोटा से क्रू मॉड्यूल को तरुवनंतपुरम स्थित विक्रम साराभाई अंतरिक्ष केंद्र (वीएसएससी) लाया जाएगा.
Read More

Wednesday, December 17, 2014

भारत पर भी हो सकता है आतंकी हमला, आईएस कर सकता है मदद : राजनाथ सिंह

December 17, 2014 0
नई दिल्ली: सिडनी और पाकिस्तान में हुए हमले के बाद गृहमंत्रालय ने सभी राज्यों को सतर्क किया है। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने पत्रकारों को बताया है कि भारत में जिस तरह आईएस अपनी जड़ें फैला रहा है, यह चिंताजनक बात है और उसके समर्थक यानी प्रभावित युवा भी आतंकी हमला कर सकते हैं।

गृहमंत्रालय ने इसे लेकर सभी राज्यों में अलर्ट जारी किया है और सभी राज्यों को अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के आने तक यानी जनवरी के अंत तक सतर्क रहने को कहा गया है।

गृहमंत्रालय ने राज्यों को सिमी के पांच भागे हुए समर्थकों के लिए आगाह किया है कि ये लोग लश्कर और इंडियन मुजाहिदीन की मदद से आतंकी हमले को अंजाम दे सकते हैं इसलिए सभी राज्यों को मिलकर एक्शनेबल इंटेलिजेंस पर काम करने की जरूरत है।

राज्यों को कड़े शब्दों में कहा गया है कि जहां-जहां भीड़भाड़ रहती है, वहां अपनी ज्यादा मौजूदगी दिखाएं। संवेदनशील जगहों पर क्वीक रिएक्शन टीम तैनात करें और अपना असला भी रूटीन में चेक करवाते रहें।

मॉक ड्रील्स भी करवाएं ताकि शहरों में अलग-अलग एजेंसियों में तालमेल बढ़े और किसी तरह की ढिलाई न दिखाई दे। दिल्ली को महफूज बनाना हमारी जिम्मेदारी है। दिल्ली के पुलिस कमिश्नर भीम सेन बस्सी का कहना है कि बहरहाल खतरा काफी रियल है इसलिए न सिर्फ पुलिस को बल्कि आम नागरिकों को भी सतर्क रहने की जरूरत है, क्योंकि पुलिस हर समय हर जगह मौजूद नहीं हो सकती।
Read More

Sunday, December 14, 2014

बीट व्यवस्था के बाद भी नहीं दिखती पुलिस, गली गली में घूम रहे असामाजिक तत्व

December 14, 2014 0
कटनी - जिले में पुलिस बीट व्यवस्था लागू तो कर दी गई है पर जमीनी स्तर पर यह कहीं नजर नहीं आती, बीट प्रभारियों के फ़ोन नंबर तक किसी स्थान पर नजर नहीं आते और न ही आम जनों से संपर्क संवाद स्थापित करने कोई पहल हुई है, नतीजतन असामाजिक तत्व निष्फिक्र  होकर अपनी अवैध गतिवििधियो को अंजाम देते रहते है, ज्यादा नहीं मैं सिर्फ अपने आस पास हो रही कुछ ऐसी गतिविधियों पर प्रकाश डाल रहा हूँ जिससे शांतिप्रिय नागरिक अक्सर परेशान होते है और पुलिस व्यवस्था को लेकर सवाल भी खड़ा करते है क्योंकि शाम ढ़लने के बाद असामाजिक लोग शराब की बोतल और डिस्पोजल गिलास लेकर सड़क से लगी गलियों में बैठकर शराब खोरी करते है जिससे वहाँ से आने जाने वाली महिलायें - बच्चे आदि सहम से जाते है, कुछ खुले आम गांजा पीते रहते है और नशे की हालत में गन्दी गन्दी गालियां बकते है, आम नागरिक यह देख झगडे झंझट के डर से मन मसोस कर रह जाते है, इसी तरह कुछ लोग मोबाइल पर बात करने के बनाने टहलते हुए लोगो के घरों में ताक झाँक भी करते रहते है और कोई उन्हें कुछ बोले तो कहते है कि तुम्हारे घर में घुस तो नहीं आएं है ? कहने को भले ही यह कोई बड़े गंभीर अपराध न हो पर ऐसी बाते ही आम तौर पर शांति प्रिय नागरिको के मन में क़ानून व्यवस्था का चेहरा निर्मित करती है और ऐसी गतिविधियाँ ही बाद में होने वाले किसी बड़े अपराध का कारण भी बन जाती है इसलिए पुलिस प्रशासन को चाहिए कि ऐसे असामाजिक तत्वों के प्रति सख्ती दिखाए और आम जन से सीधा संपर्क स्थापित करे जिससे ऐसी गतिविधियों की जानकारी पुलिस को देने में नागरिक हिचकिचाये नहीं अन्यथा जैसा नजर आ रहा है वैसा माहौल तो कतई भी अच्छा नहीं कहा जा सकता बल्कि अपराधों की पृष्ठभूमि ही निर्मित करता है. 
Read More

Thursday, October 09, 2014

Friday, September 12, 2014

मनरेगा में सहभागिता के लिए अभ्यास प्रशिक्षण का आयोजन

September 12, 2014 0


कटनी - महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी स्कीम-म.प्र. अंतर्गत सघन सहभागी नियोजन अभ्यास हेतु तीन दिवसीय प्रशिक्षण वृन्दावन रेस्टोरेन्ट में आयोजित किया जा रहा है। यह प्रशिक्षण कार्यक्रम जिला पंचायत कटनी के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डाॅ के डी त्रिपाठी के मार्गदर्शन में आयोजित हो रहा है । जिसके प्रथम दिवस 11 सितम्बर 2014 को प्रशिक्षण में मनरेगा के और बेहतर क्रियान्वयन तथा वित्तीय वर्ष 2015-16 के श्रम बजट के संबंध में जानकारी दी गई। उक्त प्रशिक्षण कार्यक्रम में श्रम बजट के लिये सम्मिलित किये जाने वाले कार्यो के संबंध में विस्तृत जानकारी देते हुये महात्मा गाॅधी‘-नरेगा भोपाल के सामाजिक अंकेक्षण संचालक अभय पाण्डेय ने बताया कि, श्रम बजट बनाते समय ग्रामीणों की भागीदारी सुनिश्चित् की जाये तथा ग्रामीणों एवं स्थानीय आधार अनुसार श्रम बजट बनाया जाये। उन्होने बताया कि, पारा/गांव/वार्ड तथा ग्राम पंचायत के समग्र विकास योजना बनाने के दृष्टिकोण, प्रक्रिया एवं साधनों पर विचार-विमर्ष करें ताकि लोगों विषेषकर गरीब एवं कमजोर लोगों के जीविका एवं जीवनवृत्ति की स्थिति में उनकी आवष्यकताओं एवं प्राथमिकाताओं के आधार पर सुधार किया जा सके।
 अभय पाण्डेय ने मनरेगा के स्टाॅफ एवं संसाधनों तथा अन्य शासकीय योजनाओं, कार्यक्रमों एवं संसाधनों के बीच अभिसरण करने के संबंध में जानकारी दी साथ ही साथ मनरेगा के तहत कार्यों एवं उपलब्धियों को अभिसरण के द्वारा बढ़ाया जा सकता है इस संबंध में भी प्रशिक्षित किया ।
प्रशिक्षण में रोजगार गारंटी परिषद् भोपाल से आये मास्टर ट्रेनर श्रीकान्त ने प्रोजेक्टर एवं अन्य माध्यमों से प्रशिक्षाणार्थीयों को प्रशिक्षण दिया। प्रशिक्षण में जिला-दमोह एवं कटनी के ग्रामीण विकास विभाग अधिकारी कर्मचारी एवं संबंधित संस्थाओं ने भाग लिया । प्रशिक्षण 13 सितम्बर 2014 तक आयोजित होगा जिसमें महात्मा गाॅधी-नरेगा, से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारियाॅ दी जायेगीं ।
उक्त प्रशिक्षण कार्यक्रम में जिला पंचायत के जिला ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिकारी डाॅ0 संतोष बाल्मिकी, आशुतोष खरे, सुरेन्द्र मौरे, अंकलेश्वर चैबे, अजय कुमार द्विवेदी,  मोहम्मद आरिफ, लक्ष्मण अहिरवार,  रामायण वर्मा, जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी तथा जनपद पंचायत के अतिरिक्त कार्यक्रम अधिकारी  अनुराग सिंह, अजीत सिंह, श्रीमति वर्षा जैन,  मंजूल मयंक त्रिपाठी, राजकुमार सिंह एवं संबंधित अधिकारी, कर्मचारी मौजूद थे ।

Read More

Thursday, September 04, 2014

जनता के कल्याण के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेंगे - मुख्यमंत्री ने 3.15 करोड़ की राशि से विकास कार्यो का लोकार्पण व शिलान्यास किया

September 04, 2014 0




कटनी/ उप चुनाव में विजयराघवगढ़ की जनता ने भाजपा से संजय पाठक को ऐतिहासिक मतों से विजयी बनाया है जिसका आभार व्यक्त करने खुद प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान विजयराघवगढ़ विधानसभा क्षेत्र की उद्योग नगरी कैमोर पहुंचे तो जनता के लिए करोड़ों रुपये के विकास कार्यो की सौगातों की घोषणा कर दी व विकास कार्यो का लोकार्पण किया, इससे पहले जनता के समर्थन के परिप्रेक्ष्य जन अभिनंदन सभा की शुरूआत भारत माता व क्षेत्र की जनता की जयकार तथा उन्हें धन्यवाद देेकर की । 

उन्होनें कहा कि अक्सर चुनाव के बाद लोग अपने वायदे भूल जाते है, लेकिन मैंने जो वायदा किया, उसे अवश्य पूरा करूॅगा, साथ ही उन्होंने कहा कि जो जनता के सामने चुनावी वादे किये गए थे, उसे पूरा करने में वे कभी उन्हें नीचा नही देखने देगें। 
क्षेत्र के विकास के लिये  विधायक संजय पाठक ने विकास की प्राथमिकता को दृष्टिगत रखते हुये जो मांगे रखी उस सम्बन्ध में मुख्यमंत्री ने कहा कि ओला व अतिवृष्टि का पैसा जल्दी ही भुगतान कराया जायेगा। खाद्यान्न सुरक्षा अन्तर्गत अभी तो 1.65 लाख हितग्राही चिन्हित किये गये है, किन्तु एक बार फिर से शिविर लगाकर छूटे नाम जोड़नें का कार्य किया जायेगा। सिर्फ यही भर नही, वरन सरकार की 1-1 योजनाओ का क्रियान्वयन शिविरों के माध्यम से सुनिश्चित किया जावेगा।

बेटी बचाओ अभियान पर उन्होनें कहा कि ‘‘बेटी है तो कल है ’’ बेटी के बिना सरकार संसार नही चल सकता। बेटी के साथ-साथ बेटों को भी बराबरी का दर्जा देने को कहा । बेटियो से संबंधित योजनाओ पर विशेष जोर देते हुये उन्होनें कहा कि 1.75 लाख बेटे -बेटियो जो हाल ही में कालेजो में प्रवेश लिये है, उन्हे स्मार्ट फोन दिये जावेंगे। मुख्यमंत्री श्री चैहान ने शिशु व मातृ मृत्यु रोकने के लिये ममता रथ को हरी झंडी दिखाकर शुभारम्भ किया। उन्होंने किशोरियो के स्वास्थ्य को दृष्टिगत रखते हुये उन्हे आवश्यक दवाईया सुनिश्चित कराने के लिये निर्देशित किया। मुख्यमंत्री नें विभिन्न विभागो के द्वारा लगाये गये प्रदर्शनियो का अवलोकन भी किया ।  

इस अवसर पर मुख्यमंत्री द्वारा 3.15 करोड़ की राशि से क्षेत्र के विकास के लिये विभिन्न कार्यो का लोकार्पण व शिलान्यास किया गया । उन्होनें विजयराघवगढ़ /कैमोर वाईपास की डीपीआर बनाने के निर्देश दिये डीपीआर बनने के बाद योजना मे लगने वाली राशि तत्काल प्रदान करने की घोषणा की । उन्होने मुख्यमंत्री नल जल योजना का निर्माण कैमोर में करने 2 करोड़ की स्वीकृति , वि.गढ़ में 2.50 करोड़ की हाट बाजार की स्वीकृति तथा नगर पंचायतो को 1-1 करोड़ की राशि देने की घोषणा की ।
महानदी से जल प्रदाय के बरही में 7 करोड़ की स्वीकृति नगर पंचायत वि.गढ़ में बस स्टैण्ड के लिये डीपीआर तैयार करने इत्यादि कार्यो की घोषणा की । उन्होनें कहा कि विधायक संजय पाठक ने उन्हें जो मांगपत्र सौंपा है, उसे वे 5 वर्षो में पूर्ण करेंगे। जनता के कल्याण के लिये कोई कसर नहीं छोडे़ेगें। 
उन्होने आमजन को निर्देशित किया कि गाँव में लगने वाले पैसे का उपयोग ठीक से हो, इसकी जबाबदारी आपकी है। अतः उन्होनें विकास को दृष्टिगत रखते हुये जनता का आव्हान करते हुये सभी को दृढ़संकल्पित किया ।
इसके पूर्व विधायक संजय पाठक ने अपने उद्भोधन में क्षेत्र के विकास के लिये विस्तृत माॅगो का प्रस्ताव एवं क्षेत्र की विकास योजनाओ को पूर्ण कराने की कार्ययोजना को स्वीकृत करने हेतु मुख्यमंत्री से अनुरोध किया तथा भारी मतो से जिताने के लिये क्षेत्र की जनता के प्रति आभार व्यक्त किया । 
प्रभारी मंत्री व जनसंपर्क मंत्री राजेन्द्र शुक्ला ने भी इस अवसर पर क्षेत्र के विकास की प्रतिबद्धता व्यक्त करते हुये वि.गढ के सर्वांगीण विकास का वायदा किया। 
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा शासन के विभिन्न विभागो द्वारा जन कल्याणकारी योजनाओं के क्रियान्वयन संबंधी लगाये गये स्टालो का निरीक्षण किया । निरीक्षण के दौरान कृषि विभाग के स्वीटकार्न को चखकर उसकी तारीफ भी की।  
इस मौके पर भा.ज.पा जिलाध्यक्ष पं. विजय शुक्ला, विधायक  संदीप जायसवाल पूर्व विधायक धुव्र प्रताप सिंह, श्रीमती पदमा शुक्ला , जिला पंचायत अध्यक्ष क्रांति चौधरी व महापौर श्रीमती रूकमणि बर्मन सहित भारी संख्या में जन समुदाय उपस्थित थे। प्रशासन की ओर से कलेक्टर  अशोक कुमार सिंह , एस.पी. राजेश हिंगणकर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी के.डी.त्रिपाठी तथा एडीएम  दिनेश श्रीवास्तव सहित सभी प्रशासनिक अधिकारी व जिलाधिकारी उपस्थित थे।
Read More

Sunday, April 06, 2014

भाजपा में पैसा कहाँ से आ रहा है यह मत पूछो .. भ्रष्टाचार को लेकर दो मुंही राजनीति

April 06, 2014 0

पं दीनदयाल उपाध्याय, श्यामा प्रसाद मुखर्जी, अटल बिहारी वाजपेयी जैसे नेताओ वाली भारतीय जनता पार्टी की कटनी जिला इकाई  को इस बात से तकलीफ होती है कि उनसे धन के स्रोतो के बारे में क्यों पूछा जाता है वैसे तो भाजपा से प्रधानमंत्री पद के दावेदार नरेंद्र मोदी देश भर को  भ्रष्टाचार से मुक्त कर देने की बात कर रहे है लेकिन उनकी पार्टी के मीडिया प्रभारी  लाखो रुपये के खर्च पर पूछे जा रहे सवालो से ही तिलमिला जाते है, सुचिता, पारदर्शिता की बात  भाजपा फिर किस मुंह से कर रही है या सिर्फ कटनी जिला इकाई का ही हिसाब किताब रहस्मय है. सूत्रो के अनुसार जब से कांग्रेस के धनबली नेता संजय  पाठक भाजपा में आये है तब से पार्टी का सारा खर्च पानी वही कर रहे है, १ अप्रेल को कटनी में मुख्यमंत्री की सभा में लगवाये गए टेंट सहित एक सैकड़ा बसो,कारो से भर कर लाई गई भीड़ से लेकर समाचार पत्रो को भाजपा से जारी किये गए सभी विज्ञापनो का खर्च  भी संजय पाठक ने उठाया है, शहर की आम जनता इसे  भाजपा की दो मुंही राजनीति बता रही है जिसमे एक तरफ तो भाजपा भ्रष्टाचार के खिलाफ बड़ी बड़ी बाते करती नजर आ रही है वही दूसरी तरफ लाखो रुपये खर्च कौन से धन से किया जा रहा है इसपर पूछे गए सवाल उसे नागवार गुजर रहे है, क्या सत्ता मिलने के बाद भाजपा ऐसे ही क्रियाकलापो को पर्दे के पीछे रख कर देश में  राज करेगी ?         


कटनी -  बार बार अपने बयान बदलते बदलते आखिरकार संजय पाठक  भाजपा में शामिल हो ही गए, ३१ मार्च को भोपाल में पांच रुपये मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के हाथ में देकर वे विधिवत भाजपा के सदस्य बन गए. अब उनकी राजनितिक हैसियत  भाजपा में सिर्फ नेता या कार्यकर्ता भर की न होकर मुख्यमंत्री के छोटे भाई के जैसे होगी, कटनी में १ अप्रेल को आयोजित एक चुनावी सभा में बड़े भाई छोटे भाई का आत्मीय मिलन सब देख ही चुके है  अभी तक ऐसा सौभाग्य कटनी के किसी भाजपा नेता या कार्यकर्ता को शायद ही मिला हो.
संजय पाठक के कांग्रेस छोड़ने  और ना ना कर अपना डीएनए बदलते हुए भाजपा में शामिल होने से कई महत्वपूर्ण सवाल भी खड़े हो गए है . एक तरफ तो  आज चुनावो में भाजपा भ्रष्टाचार और कांग्रेस मुक्त भारत की बात कर रही है तो दूसरी तरफ भाजपा संजय पाठक के खिलाफ पूर्व से अपनी ही कही बातो पर  सरासर मिट्टी डालते हुए उनसे युक्त होती ही नजर आ रही है, मतलब जिससे मुक्त होना है उसी में युक्त हो जाओ. सूत्रो के अनुसार यह सिर्फ एक सौदेबाजी है  है, बदले में पार्टी का खर्च संजय पाठक द्वारा उठाया जायेगा.  
कांग्रेस से इस्तीफा देने के बाद क्या करना है इसपर संजय पाठक ने कांग्रेस कार्य कर्ताओ से रायशुमारी की बात कही थी लेकिन सूत्र बताते है सिर्फ आम जनता में भ्रम फैलाने के लिया था जबकि वास्तविकता में सब कुछ पहले से ही तय था, कांग्रेस सूत्रो के अनुसार वन भूमि पर अवैध खनन को लेकर कई मामले  न्यायालयो में लंबित है, नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल में भी खनन  व्यापार से जुड़े  मामले लंबित है, सूत्रो की बात पर यकीन किया जाए तो पर्दे के पीछे का सच शुद्ध व्यवसायिक है और इसमें कई जनों का निजी हित जुड़ा हुआ है. अभी से स्थानीय भाजपा के सभी खर्चे उठाये आज रहे है
इस पूरे नाटकीय क्रम में कांग्रेस की छवि भाजपा से बेहतर नजर आई है कांग्रेस अगर चाहती तो संजय पाठक की मान लेती लेकिन ऐसा नहीं किया. इससे आम जनता के बीच यह सन्देश गया कि कांग्रेस धनबल और बाहुबल के आगे नहीं झुकी बल्कि भाजपा उनके घर खुद ही लेने  पहुँच गई. भाजपा द्वारा  संजय पाठक के प्रति दिए गए पिछले बयानों और की गई राजनीति से आम जनता अच्छी तरह से वाकिफ है लेकिन  वर्त्तमान में हो रही गल बहलियो को देखकर आम जनता का  सिर चकरघन्नी की तरह ही घूम रहा है और सब कुछ अच्छी तरह से वह समझ भी रही है कि असली माजरा क्या है  
 




Read More

Friday, April 04, 2014

कांग्रेस युक्त होती भाजपा .. वन भूमि पर अवैध खनन की अपनी बात ही भूली

April 04, 2014 0
कटनी - बार बार अपने बयान बदलते बदलते आखिरकार संजय पाठक  भाजपा में शामिल हो ही गए, ३१ मार्च को भोपाल में पांच रुपये मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के हाथ में देकर वे विधिवत भाजपा के सदस्य बन गए. अब उनकी राजनितिक हैसियत  भाजपा में सिर्फ नेता या कार्यकर्ता भर की न होकर मुख्यमंत्री के छोटे भाई के जैसे होगी, कटनी में १ अप्रेल को आयोजित एक चुनावी सभा में बड़े भाई छोटे भाई का आत्मीय मिलन सब देख ही चुके है  अभी तक ऐसा सौभाग्य कटनी के किसी भाजपा नेता या कार्यकर्ता को शायद ही मिला हो.
सतना में नरेंद्र मोदी के पास मुख्यमंत्री शिवराज  सिंह चौहान ले गए थे संजय पाठक को, गौरतलब है कि भाजपा से प्रधान मंत्री पद के दावेदार नरेंद्र मोदी देश से भ्रष्टाचार ख़त्म करने की बात कर रहे है लेकिन कर्नाटक में येदुरप्पा उनके कारण ही भाजपा में वापस आ पाये, यहाँ भी संजय पाठक की कम्पनियो पर  वन भूमि पर ५ हजार करोड़ रुपये के अवैध खनन के गम्भीर आरोप है और यह आरोप पिछले दशको में खुद भाजपा ही लगाती रही है.   
संजय पाठक के  कांग्रेस छोड़ने  और ना ना कर अपना डीएनए बदलते हुए भाजपा में शामिल होने से कई महत्वपूर्ण सवाल भी खड़े हो गए है . एक तरफ तो  आज चुनावो में भाजपा भ्रष्टाचार और कांग्रेस मुक्त भारत की बात कर रही है तो दूसरी तरफ भाजपा संजय पाठक के खिलाफ पूर्व से अपनी ही कही बातो पर  सरासर मिट्टी डालते हुए उनसे युक्त होती ही नजर आ रही है . इससे तो यही समझ में आता है जिससे मुक्त होना है उसी में युक्त हो जाओ.  सूत्रो के अनुसार मध्य प्रदेश में मिशन २९ ऐसे ही पूरा करने का प्लान है 
कांग्रेस से इस्तीफा देने के बाद क्या करना है इसपर संजय पाठक ने कांग्रेस कार्य कर्ताओ से रायशुमारी की बात कही थी लेकिन सूत्र बताते है सिर्फ आम जनता में भ्रम फैलाने के लिया था जबकि वास्तविकता में सब कुछ पहले से ही तय था, कांग्रेस सूत्रो के अनुसार वन भूमि पर अवैध खनन को लेकर कई मामले  न्यायालयो में लंबित है, नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल में भी खनन  व्यापार से जुड़े  मामले लंबित है, सूत्रो की बात पर यकीन किया जाए तो पर्दे के पीछे का सच शुद्ध व्यवसायिक है और इसमें कई जनों का निजी हित जुड़ा हुआ है.

इस पूरे नाटकीय क्रम में कांग्रेस की छवि भाजपा से बेहतर नजर आई है कांग्रेस अगर चाहती तो संजय पाठक की मान लेती लेकिन ऐसा नहीं किया. इससे आम जनता के बीच यह सन्देश गया कि कांग्रेस धनबल और बाहुबल के आगे नहीं झुकी बल्कि भाजपा उनके घर खुद ही लेने  पहुँच गई. भाजपा द्वारा  संजय पाठक के प्रति दिए गए पिछले बयानों और की गई राजनीति से आम जनता अच्छी तरह से वाकिफ है लेकिन  वर्त्तमान में हो रही गल बहलियो को देखकर आम जनता का  सिर  चकरघन्नी की तरह ही घूम रहा है,
Read More

Thursday, March 06, 2014

प्रदूषण बोर्ड की जाँच रिपोर्ट पर कार्यवाही नही, प्रशासन के लिए जनहित महत्वपूर्ण या कुछ और ..

March 06, 2014 0
रिहायश के लिए आरक्षित पुनर्वास भूमि के खाली पड़े बड़े भूखंडों पर अवैध कब्जा कुछ ख़ास लोगो ने ही किया है पुनर्वास की 12 शीटों की जाँच की जाए तो साफ़ साफ़ नजर आ जायेगा कि जितने भी बड़े बड़े भूखंड खाली थे उनपर अवैध कब्जा पुनर्वास विभाग की मिलीभगत से पूर्व में किया गया था अन्यथा यह कैसे हो सकता था जितना बड़ा भूखंड उतना ही ख़ास जनों का कब्जा, माधव नगर में यह घोर असमानता है कि कुछ लोग किराये अथवा छोटे से घर में रहते है और कुछ लोगो के पास लाखो वर्गफुट भूमि पर अवैध कब्जा है और रहने के लिए बड़े आलीशान बंगले भी बना रखे है, इनका कोई सामाजिक सरोकार नही कि इनके अवैध बने उद्योगों- धर्मकाँटों में आने जाने वाले भारी वाहनों से जन सामान्य को कितना कष्ट होता होगा. आधा दर्जन स्कूल में पड़ने वाले बच्चों को कितना खतरा उठना पड़ता होगा, माधव नगर और इस क्षेत्र से गुजरने वाला बड़ा वर्ग यहा स्थापित अवैध उद्योगों में चौबीस घंटे प्रवेश कर रहे भारी वाहनों के   चलते धूल - ध्वनि प्रदूषण का बड़े स्तर पर शिकार है, प्रदूषण का स्तर जनसामान्य के लिए खतरनाक स्तर पर पहुँच चुका है, म प्र प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने इसकी जांच कर कार्यवाही करने का पत्र नगर निगम आयुक्त और यातायात पुलिस को लिखा है बावजूद इसके जनहित  में कार्यवाही करने किसी जिम्मेदार विभाग में नीयत ही दिखाई नहीं देती   


20 फरवरी को नगर निगम आयुक्त और यातायात पुलिस को मप्र प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा कार्यवाही करने को लिखा गया पत्र  
कटनी - पुनर्वास भूमि पर अवैध मिलें - धर्मकाँटे जवाबदार अधिकारियों की मिलीभगत से तन गई, इनमें चौबीस घंटे भारी वाहनों के प्रवेश ने आम नागरिकों का जीना दूभर कर रखा है, प्रदूषण विभाग ने 11 फरवरी को संत कंवरराम वार्ड शनि चौक की जाँच में वायु प्रदूषण जाँच में प्रदूषण का स्तर अत्यधिक पाया है, प्रदूषण बोर्ड के निर्धारित मानकों के अनुसार 100 माइक्रोग्राम प्रतिघन मीटर प्रदूषण 24 घंटे में होना चाहिए जबकि यहां 2 घंटे में ही 312-12 माइक्रोग्राम प्रतिघन मीटर डस्ट प्रदूषण की पुष्टि बोर्ड अपनी रिपोर्ट में कर चुका है इसके बावजूद यहां के लोगो के लिए कोई कदम नही उठाया गया है जबकि इसी मुद्दे पर 25 फरवरी को जिला प्रशासन और जनप्रतिनिधियों की बैठक यह निर्देश दिए गए थे कि चावला चौक, ग्राम पंचायत चौराहा और कुम्हार मोहल्ले में बैरियर लगाकर भारी वाहनों का प्रवेश प्रतिबंधित किया जाए, गौरतलब है कि प्रदूषण का कारण घनी बस्ती की सड़क के बीच दौड़ रहे भारी वाहन, ट्रक ट्रैक्टर आदि है

स्कूल और रिहायशी क्षेत्र होने के बावजूद भारी वाहनों पर प्रतिबंध नही
कार्यवाही नही होने से खड़े हो रहे कई सवाल

प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की रिपोर्ट में साफ़ तौर पर बताया गया है कि माधवनगर के क्षेत्र में स्कूल व रिहायशी क्षेत्र स्थापित है, परवेशीय वायु गुणवत्ता सुधार के लिए खराब पड़ी सड़क में सुधार की आवश्यकता है एवं भारी वाहनों को वैकल्पिक मार्ग चलाया जाए जिससे स्थिति में सुधार हो, लेकिन प्रशासन ने जनहित में अभी तक कोई कदम नही उठाया है जिससे कई सवाल खड़े हो रहे है कि कही  प्रशासन जनहित को तिलांजली देकर किसी के दबाव में तो नही आ गया है   

   


Read More

Saturday, February 08, 2014

हकदारो को हक या भू माफियाओ को फायदा .. इधर समाधान की राह उधर ज़मीनो की डकैती

February 08, 2014 0



(प्रबल सृष्टि विशेष) माधवनगर स्थित पुनर्वास भूमि समस्या का हल निकालने प्रशासनिक स्तर पर प्रयास शुरू हो चुके है, हालाँकि यह प्रयास अभी आरम्भिक चरण में है लेकिन जिस मंशा को लेकर यह किए जा रहे है उसमें अगर बाद के स्तरों पर कोई रुकावट या भू माफियाओ को विशेष फायदा देने के प्रयास नहीं हुए तो पुनर्वास भूमि समस्या हमेशा हमेशा के लिए खत्म हो जाएगी. इसके लिए प्रशासन को अभी से ही फूंक फूंक कर कदम उठाने की जरूरत है क्योंकि इस पूरी कवायद का असल उद्देश्य देश के विभाजन के समय पश्चिमी पाकिस्तान से आए शरणार्थी परिवारों को ही नियमअनुसार भूमि का हक दिलाना है, ना की भू-माफियाओ को लाभ पहुँचाना, कहीं यह न हो कि इस पूरी कवायद का नाजायज फायदा अति सम्पन और वे दबंग लोग ही उठाने लग जाए जिनकी वजह से ही उत्त्पन हुई समस्या लंबित चली आ रही है. कुछ ऐसे प्रयास नजर भी आने लगे है, हाल के दिनों में ही बंगला लाइन एसीसी क्लब के पास खाली पड़ी हुईं लाखो वर्गफुट पुनर्वास भूमि पर कई बाउंड्री वाल तानकर अवैध कब्जा कर लिया गया है. क्या प्रशासन को यह नजर नही आया ? जहां एक तरफ़ गरीब लोगो को बेदखल करने में प्रशासन जरा भी देर नही लगाता वही दूसरी तरफ़ लाखो वर्गफुट भूमि पर अवैध कब्जा वह होने देता है. इसकी जवाबदेही किसकी है ताजे ताजे हुए ऐसे अवैध कब्जों को भी अगर वैध करने का खेल समस्या के समाधान की आड़ में खेला जाता है तो निसंदेह यह आपराधिक कृत्य की श्रेणी में आयेगा        


कटनी - 12 शीटों में विभाजित 399 एकड़ आरक्षित पुनर्वास भूमि पर 1711 पट्टे पूर्व में ही दिए जा चुके है, बाकी खाली पड़ी भूमि पर कुछ अन्य बस्तियाँ बस गई, कुछ पर प्रशासनिक अधिकारियों के शासकीय आवास बने हुए है, इसके अलावा बाकी बची भूमि पर अवैध कब्जा कर किया गया था, अब उस अवैध कब्जे और बाकी हक़दार जनों को भूमि का हक दिए जाने की दिशा में प्रशासन प्रयास शुरू कर चुका है. सूत्रों से प्राप्त जानकारी अनुसार जिनका 1800 वर्ग फिट पर कब्जा है उन्हें बाज़ार मूल्य का 10 प्रतिशत राजस्व चुकाना होगा, भूमि पर कब्जे के अनुसार यह दरें बढ़ती जायेंगी, 5000 वर्ग फिट तक 30 प्रतिशत और इससे ज्यादा होने पर बाज़ार मूल्य का 75 प्रतिशत तक चुकाना होगा. यह भी स्पष्ट है कि भूमि का आवंटन पूर्व निर्धारित 12 शीटों के अनुसार ही किया जायेगा. कई वर्षो से रहने वाले जो परिवार अपना हक मिलने का इंतज़ार में थे उनके लिए यह अच्छा है, प्रशासन को इस बात को सुनिश्चित कर लेना चाहिए कि हाल के वर्षो में लाखो वर्गफुटो पर अवैध कब्जा करने वाले समाधान की इस प्रक्रिया में प्रशासन के कंधों पर ही न बैठ कर अपना उल्लू सीधा कर ले   

पारदर्शिता और संतुलन बनाए रखना जरूरी






कुछ ऐसे सवाल जो बाद में हर स्तर पर खड़े हो सकते है उन्हें ध्यान में रखकर ही निष्पक्ष प्रयासों की उम्मीद अब आम जनता को जगी है, क्योंकि यह बात किसी से छिपी हुई नही है कि पुनर्वास भूमि पर ज्यादातर कब्जा किसका और कितना है. अगर किसी का 1 लाख वर्ग फिट या इससे कम या ज्यादा भूमि पर कब्जा है तो कही ऐसा ना हो कि 5 - 5 हजार वर्ग फिट भूमि का हक उनके परिवार और उनके अन्य रिश्तेदारों के नाम पर ही आवंटित कर दिया जाए. एक तरफ़ माधव नगर में ज्यादातर साधारण वर्ग के लोग है वह यह रकम कैसे चुका पायेंगे यह भी एक विचारणीय प्रश्न है, दूसरी तरफ़ सम्पन वर्ग भी है जिसके लिए बड़ी रकम चुका पाने कोई मुश्किल कम नही है, साधारण और मध्यम वर्ग 1800 वर्ग फिट या इससे भी कम भूमि पर काबिज है, उसे भूमि का हक मिलेगा यह निस्संदेह स्वागत करने वाली बात होगी, जिनके भूमि के बड़े हिस्से पर कब्जे है उनके पास कटनी जिले में अन्य स्थानों पर भी भूमि हो सकती है, पक्रिया में पारदर्शिता और संतुलन बनाए रखना प्रशासन के लिए जरूरी है  
   
   
Read More

Wednesday, February 05, 2014

प्रभारी मंत्री शामिल हुए जिला योजना समिति की बैठक में

February 05, 2014 0

कटनी / जिले के प्रभारी मंत्री तथा ऊर्जा नवीन एवं नवकरणीय, खनिज साधन तथा जनसम्पर्क मंत्री राजेन्द्र शुक्ल की अध्यक्षता में जिला योजना समिति की बैठक बुधवार 5 फरवरी को सम्पन्न हुई । बैठक में पिछली बैठक की कार्यवाही विवरण का पालन प्रतिवेदन पर विस्तार से चर्चा की गई तथा खेत, सड़क एवं सुदूर ग्राम सम्पर्क योजना के क्रियान्वयन की समीक्षा की गई । बैठक में  जिले में घरेलू एवं बिजली की उपलब्धता, नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण द्वारा निर्माणाधीन स्लीमनाबाद -मैहर नहर  निर्माण की समीक्षा, मुख्य मंत्री आवास योजना तथा एक रूपये किलो गेहूं चावल वितरण योजना की समीक्षा उपरांत अध्यक्ष की अनुमति से अन्य विकासात्मक पहलुओं पर चर्चा की गई । इस अवसर पर भाजपा जिलाध्यक्ष विजय शुक्ला, विधायक बहोरीबन्द प्रभात पाण्डे, विधायक कटनी  संदीप जायसवाल, विधायक बड़वारा मोती कश्यप, जिला पंचायत सदस्य श्रीमती पदमा शुक्ला, जिला पंचायत अध्यक्ष सुश्री क्रांति  चैधरी उपाध्यक्ष र्सौरभ सिंह कृषि समिति के सदस्य एवम् सांसद प्रतिनिधि मिट्ठूलाल जैन प्रशासनिक अधिकारियों में  कलेक्टर ए के सिंह, मुख्यकार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत जेड. यू. शेख एवं जिला योजना अधिकारी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे 
Read More

नगर विकास के महत्वपूर्ण निर्णय

February 05, 2014 0


कटनी - महापौर श्रीमती रूकमणी बर्मन की अध्यक्षता में 5 फरवरी को संपन्न हुई मेयर इन काउसिल की बैठक मे  सिटी बस सेवा प्रारंभ करने हेतु स्टेट लेबिल स्ट्रीट राईजिंग कमेटी के द्वारा 29 करोड 19 लाख की डी.पी.आर का अनुमोदन एवं निगम अंशदान वहन करने तथा मुख्य मंत्री शहरी अधोसंरचना विकास योजना के अंतर्गत 20 करोड 10 लाख की लागत से सागर पुलिया से बिलहरी मोड तक उत्कृष्ट सडक निर्माण की न्यूनतम निविदा को स्वीकृति प्रदान की गई है। बैठक मे आयुक्त एस.के.सिंह एवं समस्त एम.आई.सी सदस्य उपस्थित थे। उल्लेखनीय है कि उपरोक्त योजनाओं को लागू करने के लिये विधायक संदीप जायसवाल एवं महापौर श्रीमति रूकमणी बर्मन द्वारा शासन स्तर पर किये गये प्रयासों के फलस्वरूप योजनाओं को फलीभूत किये जाने मे सफलता प्राप्त हुई है।

सागर पुलिया से बिलहरी मोड तक बनेगी उत्कृष्ट सडक

मुख्यमंत्री शहरी अधोसंरचना विकास योजना अंतर्गत सागर पुलिया से बिलहरी मोड तक उत्कृष्ट सडक का निर्माण 18 करोड की लागत से किया जाना है, उसकी प्राप्त निविदाओं मे से न्यूनतम निविदादाता पी.एस. कंस्टक्शन, लुधियाना की निविदा को मेयर इन काउसिंल द्वारा सर्वसम्मति से स्वीकृति प्रदान कर दी गई है। निविदा स्वीकृति से इस योजना के क्रियान्वयन का मार्ग प्रशस्त हो गया है।
सागर पुलिया से बिलहरी मोड तक सडक चैडीकरण के कार्य पर 881.87 लाख, रोड डिवाईडर निर्माण पर 111.16 लाख, नाली एवं फुटपाथ निर्माण 218.30 लाख, आर.आर.सी.सी. कल्वर्ट निर्माण पर 39.69 लाख, रिटेरनिंग वाल निर्माण पर 224.58 लाख, सेंट्रल लाईटिंग कार्य पर 241.19 लाख, सिटिंग एवं विद्युतीकरण पर 60 लाख, तथा उद्यान विकास पर 23.21 लाख रूपये व्यय होगें। इस योजना के क्रियान्वित होने से नगर के सौदर्यीकरण की दिशा में महत्वपूर्ण सफलता प्राप्त होगी।

पाईप लाईन बिछाये जाने की समयावधि बढाई गई
            
यू.आई.डी.एस.एस.एम.टी योजनांतर्गत प्रस्तावित नई एवं पुरानी टंकियों को भरने के लिये 17.93 किलोमीटर लंबाई की डी.आई.के - 7 पाईप लाईन बिछाये जाने के कार्य की विगत दिनो विधायक श्री संदीप जायसवाल व महापौर श्रीमति रूकमणी बर्मन द्वारा की गई समीक्षा के उपरांत कार्य मे आ रहे अवरोधों को देखते हुये कार्य पूर्ण करनें की समयसीमा 31 मार्च 2014 तक बढाये जानें का निर्णय मेयर इन काउसिल द्वारा सर्वसम्मति से लिया गया। इस कार्य मे रेल्वे एरिया से पाईप लाईन ले जाये जानें के लिये रेल्वे की अनापत्ति प्राप्त न होनें के कारण इस कार्य की समयसीमा बढाई गई है। बैठक मे अधिकारियों द्वारा बताया गया कि रेल्वे द्वारा अनापत्ति प्रदान करनें हेतु कार्यवाही प्रगति पर है।

नगर निगम कर्मचारियों की अनुग्रह राशि 25 से बढ़कर हुई 50 हजार

मध्यप्रदेश शासन के वित्त विभाग के पत्र के अनुसार शासकीय सेवक की सेवा मे रहते मृत्यु होने पर मृतक के परिवार को अनुग्रह अनुदान राशि 25 हजार के स्थान पर 50 हजार की स्वीकृति मेयर इन काउसिंल द्वारा सर्व सम्मति से प्रदान की गई है।



Read More

Tuesday, February 04, 2014

बचपन बचाओ अभियान चलाया जायेगा.. एन.सी.सी. और एन.एस.एस. की गतिविधियों को भी विस्तार देंगे - मुख्यमंत्री

February 04, 2014 0

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सागर संभाग के एन.सी.सी कैडेट्स को ‘‘मुख्यमंत्री बेनर’’ प्रदान किया .. 
 भोपाल : 4 फरवरी / प्रदेश में एन.सी.सी. और राष्ट्रीय सेवा योजना की गतिविधियों को विस्तार दिया जायेगा। ये संस्थाएँ भविष्य के लिये अनुशासित और संस्कारित नागरिक बनाने का वातावरण तैयार करती हैं। एन.सी.सी. को स्कूलों में अनिवार्य करने और एन.सी.सी. केडेट्स के नाश्ते का बजट बढ़ाने पर भी विचार होगा, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने निवास पर मिलने आये मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ के एन.सी.सी. और राष्ट्रीय सेवा योजना के सदस्य विद्यार्थियों को संबोधित कर यह बात कही है ज्ञात हो कि  प्रदेश के एन सी सी केडेट्स ने नई दिल्ली की गणतंत्र दिवस परेड में भाग लेकर प्रदेश का गौरव बढ़ाया है।

मुख्यमंत्री ने एन.सी.सी. केडेट्स और एन.एस.एस. सेवकों का आव्हान किया कि वे मध्यप्रदेश बनाओ अभियान में भी भागीदारी करें। उन्होंने बताया कि बचपन बचाओ अभियान को भी इस अभियान के साथ जोड़ा जायेगा। उन्होंने कहा कि किसी भी प्रकार के नशे के सेवन से भावी पीढ़ी को बचाना इसका उद्देश्य होगा। मुख्यमंत्री ने बताया कि मध्यप्रदेश बनाओ अभियान के अन्तर्गत पौध रोपण, पानी बचाओ, बेटी बचाओ, स्वच्छ पर्यावरण बनाने, साक्षरता बढ़ाने के अभियान चलाये जा रहे हैं। इसी कड़ी में बचपन बचाओ अभियान भी चलाया जायेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश और राष्ट्र को युवा पीढ़ी से कई उम्मीदें हैं। ज्ञान, कौशल और संस्कार से ही युवा पीढ़ी देश और प्रदेश के निर्माण में योगदान दे पायेगी। उन्होंने विद्यार्थियों से आव्हान किया वे लक्ष्य तय कर अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान दें।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री चौहान ने गणतंत्र दिवस परेड नई दिल्ली में भाग लेकर प्रदेश का गौरव बढ़ाने वाले एन.सी.सी. केडेट्स को प्रमाण-पत्र और नगद पुरस्कार राशि देकर सम्मानित किया।

मेजर जनरल ए.के. घोष अतिरिक्त महानिदेशक एन.सी.सी. मध्यप्रदेश एवं छत्तीसगढ़ ने पिछले एक साल में एन.सी.सी. केडेट्स की उपलब्धियों की जानकारी दी।


एन.सी.सी. केडेट्स ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया। इस अवसर पर सागर संभाग को विशेष उपलब्धियों के लिए मुख्यमंत्री बेनर प्रदान किया। उच्च शिक्षा मंत्री उमाशंकर गुप्ता, स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री दीपक जोशी ने भी केडेट्स को संबोधित किया। प्रमुख सचिव उच्च शिक्षा जे.एन. कंसोटिया, प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा एस.आर. मोहन्ती एवं ब्रिगेडियर बी.एम. सिंह उपस्थित थे।
Read More

पति पत्‍‌नी को स्मैक बेचते पुलिस ने पकड़ा

February 04, 2014 0
कटनी - थाना कोतवाली को मुखबिर से मौखिक सूचना प्राप्त हुई कि एक व्यक्ति अपनी पत्नि के साथ ज्ञान विद्या मंदिर, रेल्वे लाईन कटनी के पास खड़ा है, जो दुबला पतला सा है, अपने पास स्मैक मादक पदार्थ रखा है, और स्मैक बेचने के लिये किसी ग्राहक का इंतजार कर रहा है, सूचना से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया गया जिसपर पुलिस अधीक्षक राजेश हिंगणकर, नगर पुलिस अधीक्षक बी.पी. सिंह के मार्गदर्शन में व थाना प्रभारी कोतवाली कटनी एस.के. शुक्ला के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया, जिसमें उप निरीक्षक ज्योति सिंह, प्र.आर. कप्तान सिंह, आर. विष्णु दत्त शुक्ला, लालजी यादव को सूचना की तस्दीक हेतु तत्काल मौके पर रवाना किया गया, ज्ञान विद्या मंदिर, रेल्वे लाईन के पास योजनाबद्ध तरीके से घेराबंदी की गई, तो एक व्यक्ति अपनी पत्नि के साथ ज्ञान विद्या मंदिर, रेल्वे लाईन के पास खड़े दिखे, जो पुलिस को देखकर भागने का प्रयास करने लगे जिन्हें पुलिस द्वारा मौके पर रोककर पूछताछ की गई, पूछताछ से सतीश गुप्ता पिता शंकर गुप्ता उम्र 27 वर्ष नि. झर्रा टिकुरिया, भारत चौक कटनी, एवं लक्ष्मी पति सतीश गुप्ता उम्र 27 वर्ष नि. झर्रा टिकुरिया कटनी का निवासी होना बताया गया, गवाहों के सामने उप निरीक्षक ज्योति सिंह द्वारा तलाशी लेने पर लक्ष्मी पति सतीश गुप्ता के पहने लाल कुर्ते से एक सफेद पालिथीन में मादक पदार्थ स्मैक बरामद की गई, एवं सतीश गुप्ता के जीन्स पेन्ट से दो सेमसंग, माइक्रोमेक्स कम्पनी के मोबाइल बरामद किया गया, बरामद स्मैक का वजन 07 ग्राम जिसकी कीमत 21 हजार रूपये करीब होना पाया गया, बरामदगी कर थाना कोतवाली कटनी में अप.क्र. 82/14 धारा 8/21 एन.डी.पी.एस. एक्ट का अपराध  दर्ज कर विवेचना में लिया गया, आरोपियों से स्मैक के श्रोत के संबंध में सघन पूछताछ की जा रही है, पुलिस अधीक्षक कटनी द्वारा टीम के सभी सदस्यों को पुरूस्कृत करने की घोषणा की गई है।

Read More

जनसुनवाई ... कलेक्टर ने दिये प्रकरणो का निराकरण जल्दी करने के निर्देश

February 04, 2014 0

कटनी/ कलेक्टर अशोक कुमार सिंह प्रदेश शासन की मंशानुरूप संवेदनशील प्रशासन देने के लिये कृतसंकल्पित है। इसी कड़ी में कलेक्ट्रेट परिसर में आयोजित जनसुनवाई में बैठकर उन्होनें आने वाले आवेदकों से उनकी समस्याओं के बारे मे जानकारी प्राप्त करते हुये उनके त्वरित निराकरण के निर्देश दियें। इस अवसर पर डिप्टी कलेक्टर एवं उपजिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमती कविता बाटला भी उपस्थित थे। 
            जनसुनवाई के दौरान शहरी एवं ग्रामीण अंचल के लोगो ने अपने-अपने समस्याओं के निराकरण हेतु जनसुनवाई के दौरान कलेक्टर श्री ए.के.सिंह को समस्या का समाधान करने का निवेदन किया। जिस पर कलेक्टर ने सभी आवेदनो का  गंभीरता पूर्वक अवलोकन कर संबंधित अधिकारी को समयसीमा में निराकृत करने के निर्देश दिये। बैंकिग प्रकरणों के निराकरण हेतु लीडबैंक के प्रबंधक श्री पाण्डे भी उपस्थित रहे। मुख्य रूप से नक्शा सुधार, खेल मैदान भूमि से अतिक्रमण हटाना, जर्जर मकान ढ़हाये जाने, लड़ाई-झगड़ा, अवैध कब्जा, सीमांकन, बटवारा, मजदूरी भुगतान, इंदिरा आवास की राशि, वनभूमि का पट्टा प्रदाय करने, ओलापाला मुआवजा, मीटर बंद होने, खाद्य समाग्री दिलानेमकान गिरने पर मुआवजा, हेण्ड पंप लगवाने व गरीबी रेखा कार्ड आदि से संबंधित आवेदन थे।
             जनसुनवाई में विजयराघवगढ़ तहसील अंतर्गत टीकरगांव की जुगुन्ती बाई पति जल्लू चमार एव अन्य गांव के 6 आवेदनो को वनमण्डल अधिकारी से वन विभाग द्वारा किये गये कब्जे को हटाये जाने, छपरवाह, बिलगंवा, के समस्त ग्रामवासी एवं श्यामा प्रसाद मुखर्जी वार्ड के नागरिको द्वारा खेल मैदान भूमि एवं छट पूजा मेला भूमि पर अवैध पट्टा हटाये जाने वावत्, वी.ड़ी. अग्रवाल वार्ड निवासी राजेंद्र कुमार द्विवेदी द्वारा जर्जर भवन खाली कराकर ढ़हाये जाने बावत् आदि प्रमुख रहें।

            कलेक्टर द्वारा 4 फरवरी की जनसुनवाई में आए सभी 90 आवेदनो को अवलोकन कर संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे समस्या को त्वरित रूप से निराकरण करें।
Read More

Tuesday, January 28, 2014

12 साल के बच्चे के साथ 4 नाबालिगो और 1 वयस्क ने पहले किया दुष्कर्म फिर की नृशंस हत्या ...पुलिस ने किया पर्दाफाश .. सब स्तब्ध

January 28, 2014 0

गैर जिम्मेदार - लापरवाह माता - पिता को यह देखने जानने की फुर्सत ही नही कि उनके बच्चे क्या कर रहे है ? उनकी संगत कैसी है ? बच्चों के हाथ में रंगीन मल्टीमीडिया मोबाइल, गाड़ियाँ दी जा रही है, खर्च करने के लिए रुपये दिए जा रहे है. इसके बाद बच्चा कहां क्या कर रहा है, उन्हें जानने समझने की जरूरत ही महसूस नही होती. ग़लत माहौल मिलने की वजह से बच्चे कच्ची उम्र में वह सब करने लगे है जिसके गंभीर दुष्परिणाम जब हमारे आते है तो फिर हाथ में कुछ बचता ही नही है. माधव नगर में 12 वर्षीय बालक वंश रोहरा के साथ जो कुछ हुआ उसे देखने के बाद तो सबकी रूह कांप उठी थी. इस जघन्य अपराध को 4 नाबालिग बच्चों और एक वयस्क ने अंजाम दिया, यह अपराध हमे किस भविष्य की और बढ़ने का संकेत देता है ? आखिर इसकी जवाबदारी किसकी है ? माता -पिता,स्कूल,समाज,पुलिस  सबकी जिम्मेदारी बनती है कि वो ऐसे किसी कृत्य को नजरअंदाज न करे जो उचित नही है. सायबर कैफे, पूल, गेम पार्लर जैसी जगहें बच्चों के कच्चे मन पर ग़लत असर पैदा होने का कारण बन रहे है, सिगरेट, गुटखा की लत यही से शुरू हो रही है. इसके बावजूद समाज क्या कर रहा है ? सबको सिर्फ़ अपना स्वार्थ प्यारा है, कोई क्या करता है यहा किसे मतलब है ?    


कौन रोकता है पुलिस को अवैध आबाद जगहों पर कार्यवाही करने से ?  

12 साल के बालक वंश रोहरा से दुष्कर्म और हत्याकांड मामले की जाँच में पुलिस ने पाया  कि मोबाइल, इंटरनेट, अश्लील सीडी आदि के दुष्प्रभावों में आकर व नशे का प्रयोग कर जघन्य अपराध को अंजाम दिया गया है. पुलिस की इस संवेदनशील मामले में की गई कार्यवाही सिर्फ़ ऊपर ऊपर आरोपियों को पकड़ने तक तक ही सीमित है, अपराध के मूल कारणों की तह तक जाने में पुलिस गंभीर नजर नही आई, जबकि माधव नगर क्षेत्र में ही अवैध पूल, गेम पार्लर आदि धड़ल्ले से संचालित किए जा रहे है, इसपर क्यो पुलिस कार्यवाही नही करती ? गेम के बहाने से जुआ खेलने की प्रवृति ऐसी जगहों से ही शुरू होती है, नशे की लत यही से शुरू हो रही है, मोबाइल में अश्लील सामग्री कहां से लोड होती है ? क्या पुलिस इतनी नासमझ है कि उसे यह सब पता ही नही ? फिर पुलिस के हाथ किन वजहों से बन्धे हुए है ? कौन रोकता है इन्हे ऐसी अवैध आबाद जगहों पर जाकर कार्यवाही करने से ?         


बिल्डर की लापरवाही बना रही अवैध कृत्यों के लिए जगह  

अपने आरंभ से ही कुचर्चा के कारणों से विख्यात रही समदडीया सिटी माधव नगर के मालिकानो को पता ही नही कि उनके निर्माणाधीन मकानों में क्या चल रहा है. समदडीया सिटी के नागरिक बताते है कि अन्धेरा होते ही अकसर खाली जगह का फायदा उठाकर कतिपय लोग अपनी अवैध जरूरतों की पूर्ति में लिप्त दिखाई पढ़ जाते है. तीन साल में कालोनी बनाने का दावा करने वाले बिल्डर अजीत समदडीया आठ साल में कालोनी विकसित नही कर पाये है, उसपर कालोनी का हमेशा ग़लत कारणों से चर्चा में बने रहना भी नागरिकों को नागवार गुजरता है. वंश रोहरा दुष्कर्म हत्याकांड मामले में अब पुलिस की कार्यवाही सिर्फ़ बिल्डर को नोटिस देने तक ही सीमित है    


कटनी ( मध्य प्रदेश ) 27 जनवरी 2014 की सुबह रहिंदोमल रोहरा पिता चंचलदास रोहरा उम्र 42 वर्ष, निवासी कैरिन लाईन ने माधवनगर  थाने में उपस्थित होकर रिपोर्ट दर्ज कराई कि उसका 12 वर्षीय पुत्र वंश रोहरा 26 जनवरी की रात्रि करीब साढ़े सात बजे  सायकल लेकर निकला था, जो घर वापस नहीं आया, इस सूचना पर थाना माधवनगर में अपराध क्रमांक 56/14 धारा 363 ता.हि. का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया, विवेचना के दौरान अपहृत बालक की लाश समदड़िया कालोनी स्थित सूने मकान में रक्त रंजित अवस्था में मिली।
उक्त सूचना पर पुलिस अधीक्षक राजेश हिंगणकर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अमित सांघी, नगर पुलिस अधीक्षक बी.पी.सिंह एवं थाना प्रभारी माधवनगर निरीक्षक अखिल वर्मा तत्काल मौके पर पहुँचे एवं घटना की सूक्ष्म एवं वैज्ञानिक जांच प्रारंभ की गई। पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में प्रकरण से संबंधित साक्ष्यों का संकलन किया गया, मृतक शिकागो पब्लिक स्कूल माधवनगर का छात्र था, इस बावत शिकागो पब्लिक स्कूल में जाकर उसके सहपाठी छात्रों से जानकारी ली गई, प्राप्त जानकारी के आधार पर मृतक के करीबी मित्रों से पूछताछ की गई, जिसमें पाया गया कि मृतक के करीबी 4 नाबालिग एवं 1 बालिग मित्र द्वारा मृतक के साथ दृष्कर्म करने का प्रयास के कारण पकड़े जाने के डर से पत्थर एवं कटर (आरी) से निर्मम हत्या कारित की गई हैं। पुलिस द्वारा 4 किशोरों को विधि विवादित पाये जाने पर अभिरक्षा में लिया गया, जिनके संबंध में वैधानिक कार्यवाही की जा रही है एवं वयस्क आरोपी धीरज उर्फ अम्मू शीतलानी को गिरतार किया गया।
प्राथमिक जांच में पाया गया कि विधि विवादित किशोरों एवं वयस्क आरोपी द्वारा मोबाइल, इंटरनेट, अश्लील सी.डी. आदि के दुष्प्रभाव में आकर एवं दुव्र्यसनों का प्रयोग कर अपराध कारित किया गया। विधि विवादित किशोरों एवं वयस्क आरोपी के विरूद्ध धारा 302, 120बी, 201, 377 ता.हि. एवं 3,4 लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम 2013 के तहत कार्यवाही की जा रही है।
थाना माधवनगर एवं थाना कोतवाली की संयुक्त पुलिस टीम द्वारा व्यवसायिक दक्षता का परिचय देते हुय चुनौतीपूर्ण मासूम बालक की अंधीहत्या का महज 24 घंटों में पर्दाफाश किया गया। पुलिस अधीक्षक द्वारा निरीक्षक अखिल वर्मा थाना माधवनगर, उप निरीक्षक एच.एम.श्रीवास्तव, सहायक उप निरीक्षक एस.के.चैधरी, सहायक उप निरीक्षक साखेन्द्र शर्मा, प्रधान आरक्षक अंजनी मिश्रा, श्यामसिंह, कप्तान सिंह, आरक्षक गणेश्वर, बादशाह बहादुर, प्रकाश सिंह, अरूण तिवारी, चन्द्रिका शुक्ला, पंकज त्रिपाठी, गणेशदत्त मिश्रा, वीरेन्द्र तिवारी के कार्य की सराहना की गई एवं सभी को पुरस्कृत करने की घोषणा की है।
पुलिस अधीक्षक राजेश हिंगणकर द्वारा समस्त जिलावासियों से अपील की है कि सभी अपने बच्चों को रात्रि में अकेले कहीं भी जाने न दें, बच्चों द्वारा मोबाइल, इंटरनेट के उपयोग पर उनकी गतिविधियों पर नजर रखें एवं सभी नौकरी पेशा एवं व्यापारी पालकों को अपने कार्य के अतिरिक्त बच्चों पर भी ध्यान विशेष ध्यान देने की अपील की गई है। मृतक के समाज के लोगों द्वारा संवेदनशील घटना होने के पश्चात पुलिस जांच व्यवस्था में विश्वास करते हुये पूर्ण सहयोग किया गया, जिसके लिये पुलिस विभाग की ओर से समाज के सभी लोगों का आभार व्यक्त किया है, जिससे पुलिस का जनता में विश्वास बढ़ा है। 


Read More

Sunday, January 26, 2014

महिलाओं के नाम का इस्तेमाल भर करते पुरुष पति ..स्थितियाँ आज भी है पहले जैसी

January 26, 2014 0
हम गणतंत्र की 65 वी वर्षगाँठ मना रहे है...  गण मतलब महिला और पुरुष..  महिला गण है पुरुष गण है यह सही है...  लेकिन तंत्र मतलब महिला और पुरुष के पास समान है तो यह ग़लत है....  गण और तंत्र का यह फर्क सदियों से इसी रुप में स्थापित था है और शायद आगे भी रहेगा....  इस बात का महिलाओं को थोढा बुरा लग सकता है...  लेकिन वह चाह कर भी इस सच्चाई से मुँह नही मोड़ सकती कि गांव - कस्बे - शहर कि राजनीति में महिलाओं को आरक्षण की वजह से उनका सिर्फ़ नाम ही इस्तेमाल किया जाता है... 

महिलाओं के अधिकार आरक्षण  देकर सुरक्षित किए जाने की बात तो तमाम राजनैतिक दल करते आए है... चुनावों में कुछ टिकट देकर अपनी पीठ भी थपथपाते है....  किसी पद पर चुनी गई महिला जब बैठती है तो लोगो को लगता है कि अब ज़माना बदल गया है....  दूर से देखने में तो सब सही लगता है कि महिलाये पद पर बैठ कर निर्णय कर रही है...  जरा पास में जाकर विश्लेषण करिये तो असलियत समझ में आ जाती है कि ज्यादातर लोग महिलाओं के नाम का सिर्फ़ इस्तेमाल करते है...  महिलाओं के निर्णय लेने की स्थिति न के बराबर है... 

सरपंच, पार्षद जैसे पद पर चुनी गई महिलाओं  के निर्धारित काम उनके पति ही कर रहे होते है... यह भी एक सत्य है कि पति ने भी उसे आरक्षण होने की वजह से उसका नाम भर आगे किया होता है...  महिला का बस नाम होता है...  निर्णय पुरुष पति के ही चलेंगे...  मर्जी पुरुष की ही चलेगी...  उसका इस्तेमाल सिर्फ़ दस्तखत करने...  शो पीस बना कर बिठाने तक सीमित है...  स्थितियाँ कमोबेश हर जगह एक जैसी है...   जब मुद्दों को जानने समझने की बात आएगी वह चाह कर भी कुछ नही कर पायेगी...  संविधान ने तो उसे अधिकार दिए है बस बीच में पुरुष मानसिकता आड़े आ ही जाती है...  अधिकार सम्पन, निर्णायक महिला वर्ग का प्रतिशत बहुत कम है....  अब क्या करे ? कम से कम इतना तो किया ही जा सकता है जहां जनप्रतिनिधि के लिए महिला वर्ग का आरक्षण है तो वहां उसी महिला को खड़ा किया जाए तो ख़ुद उसकी दावेदारी रखने की क्षमता रखती हो...  ना कि उस महिला को जिसे सिर्फ़ पुरुष अपने राजनैतिक स्वार्थ की वजह से सामने भर खड़ा कर रहा हो...  इन्हीं बातों से अक्सर महिलाओं की क्षमता पर सवालिया निशान खड़े किया जाते है जबकि दोष उनका बिलकुल भी नही होता....                     

Read More

Monday, January 13, 2014

जिले में हुआ सूर्य नमस्कार, 1.90 लाख से अधिक विद्यार्थियो, शिक्षको, स्वयंसेवी संगठनो ने लिया भाग

January 13, 2014 0

कटनी/ स्वामी विवेकानंद जयंती अवसर पर आज प्रातः कलेक्टर अशोक कुमार सिंह के मार्गदर्शन में समूचे जिले में ‘‘सामूहिक सूर्य नमस्कार एवं प्राणायाम‘‘ का वृहद् आयोजन गरिमामय तरीके से सम्पन्न हुआ। जिसमें 1.90 लाख से अधिक छात्र छात्राओं, शिक्षको, गणमान्य नागरिकों, विभिन्न स्वयंसेवी संगठनो एवं पालको ने स्वैच्छिक भागीदारी निभाते हुये इस कार्यक्रम को सफलता एवं गरिमा प्रदान की।
जिला जनसंपर्क अधिकारी माथन सिंह उइके ने जानकारी देते हुए बताया कि कलेक्टर द्वारा इस आयोजन को सफल  बनाने के लिए  5वीं से 12वीं तक के  विद्यार्थियो, स्वयंसेवी संगठनो, एवं नागरिको से किये गये अनुरोध पर जिले के सभी स्थानो पर आज प्रातः 11 बजे से ‘‘सूर्य नमस्कार एव प्राणायाम‘‘ का सफल आयोजन किया गया। जिले में इस आयोजन में 848 विद्यालयों के 5वीं से 12वीं तक के 1.81956 विद्यार्थियों, 6120 शिक्षक-शिक्षिकाओं,  748 गणमान्य नागरिकों, 224 स्वयं सेवी संगठनो, एवं 1205 पालको द्वारा इस आयोजन में अपनी स्वैच्छिक भागीदारी निभाई गई। प्रातः 11 बजे से विभिन्न शालाओं में आयोजन संबंधी विस्तृत जानकारी दी गई। 11:20 पर राष्ट्रीयगीत ‘‘वन्देमात्रम एवं मध्यप्रदेश गान‘‘ का सामूहिक गान हुआ। 11:30 बजे मुख्यमंत्री के संदेश का वाचन किया गया। तदुपरांत 11:45 से दोपहर 12:30 बजे तक ‘‘सामूहिक सूर्य नमस्कार एवं प्राणायाम‘‘ किया गया। 


इस आयोजन में न सिर्फ विद्यार्थियो वरन् नागरिको एवं स्वयंसेवी संगठनों ने भी उत्साह दिखलाते हुये भागीदारी की। उत्कृष्ट विद्यालय माधवनगर में भी प्रातः 10:30 बजे से प्राचार्य सुग्रीव पटेल द्वारा छात्र-छात्राओ को स्वामी विवेकानंद के जीवन चरित्र पर विस्तृत प्रकाश डालते हुए जानकारी दी गई। राष्ट्रीयगीत, म.प्र.गान के उपरांत रेडियो के माध्यम से मुख्यमंत्री के संदेश वाचन छात्र-छात्राओ को सुनाया गया। तदउपरांत सामूहिक सूर्यनमस्कार एवं प्राणायाम किया गया।
Read More

Monday, January 06, 2014

गरिमा और हर्षोल्लास से मनाया जायेगा गणतंत्र पर्व, आयोजन के लिए निर्देश हुए जारी

January 06, 2014 0

कटनी / साल के पहले महीने जनवरी में 26 तारीख का मतलब सिर्फ़ एक तारीख नही बल्कि एक ऐतिहासिक पर्व का ऐसा महान दिन होता है जो सहज ही हमे महान देश के नागरिक होने के गौरव का एहसास दिलाता है इसलिए प्रशासनिक स्तर पर भी इसकी तैयारिया बहुत महत्वपूर्ण होती है, इस साल भी गणतंत्र दिवस का पर्व गरिमामय एवं हर्षोल्लास के साथ मनाने के लिए कलेक्टर  अशोक कुमार सिंह की अध्यक्षता में कलेक्ट्रट सभाकक्ष में आज शाम 4 बजे आयोजन संबंधी बैठक सम्पन्न हुई। जिसमें विभिन्न आयोजनो संबंधी समितियाँ बनाकर आवश्यक निर्देश दिये गये। बैठक में महापौर श्रीमती रूकमणि बर्मन, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी जेड.यू शेख, अपर कलेक्टर दिनेश श्रीवास्तव एस.डी.एम. श्रीमती रानी पासी सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण एवं विभिन्न विभागो के अधिकारी उपस्थित थें। 
कलेक्टर द्वारा गणतंत्र दिवस 2014 के अवसर पर सभी शासकीय विभागों के प्रमुखो को निर्देशित किया गया कि वे राष्ट्रीय ध्वज को गरिमा के अनुरूप फहराने एवं झण्डा सहिता के नियमों का पालन करें। नया ध्वज खाद्यी ग्रामोद्योग भंडार से ही क्रय करें। सभी शासकीय विभागों में प्रातः 8 बजे तक अनिवार्यत ध्वजारोहण कर लिया जावे। 
26 जनवरी 2014 को प्रातः 9 बजे नगर निगम स्टेडियम में जिला मुख्यालय के परपरागत सार्वजनिक ध्वजारोहण समारोह में मुख्य अतिथि द्वारा ध्वजारोहण किया जावेगा। आयोजन स्तर पर बेरीकेटिगं हेतु बास बलियों की व्यवस्था अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, आयुक्त नगर निगम, लोकनिर्माण विभाग द्वारा प्रेषित मांग अनुरूप वन विभाग द्वारा करायी जावेगी। जिला पुलिस बल विशेष सशस्त्र बल जेल, नगर/ग्राम रक्षा समिति, होमगार्ड, यातायात पुलिस, एन.सी.सी., एवं स्काउड गाईडस आदि की रिहर्सल परेड 16 से 23 जनवरी तक प्रतिदिन 9 सुबह से चलेगी। सभी स्थानो पर जहां भी सार्वजनिक ध्वजारोहण कार्यक्रम होते है।, उन मार्गो , चैराहो, स्तंभो, व अन्य स्थानो पर साफ सफाई पुताई चुने की लाइनिंग डलवाने का कार्य नगर निगम द्वारा किया जावेगा।
सास्कृतिक कार्यक्रमो की रिहर्सल भी हेतु एस.डी.एम. श्रीमती रानी पासी की  अध्यक्षता में 5 सदस्यीय समिति गठित की गई जो सांस्कृतिक कार्यक्रमो को राष्ट्रीय भावना से ओतप्रोत, शालीनता,गरिमामय, होना सुनिश्चित करेंगे। फाईनल रिहर्सल 24 जनवरी को नगर निगम स्टेडियम में प्रातः 10 बजे से होगी। प्रशस्ति पत्र, प्रमाणपत्र, एवं आमंत्रण पत्रो की छपाई एवं नगर निगम द्वारा की जावेगी एवं आमंत्रण पत्रो का वितरण एस.डी.एम. कटनी के निर्देशानुसार तहसीलदार कटनी एवं आयुक्त नगर निगम द्वारा मार्गदर्शन में कराया जावेगा।
स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों, मीसाबंदियो, कारगिल सहित परिवारो को आमंत्रण पत्र वितरित कर तहसीलदार कटनी द्वारा सम्मान पूर्वक लाने एवं घर तक पहुचाने की व्यवस्था की जावेगी। उक्त सम्मानितजनों के सम्मान हेतु 26 जनवरी 14 को नगर निगम स्टेडियम में फूलमाला, शाल ,श्रीफल की व्यवस्था नगर निगम द्वारा की जावेगी। पी.टी. एवं परेड के लिए निर्णायक मंडल का गठन पुलिस अधीक्षक कटनी एवं सांस्कृतिक कार्यक्रमों एवं झाकियों के लिये निर्णायक मंडल का गठन अपर जिला मजिस्ट्रेट द्वारा किया जावेगा। मंच संचालन का कार्य सुश्री राजिंदर कौर लांबा सेवा निवृत प्राचार्य, श्रीमती सीमा जैन, शिक्षिका द्वारा किया जावेगा। संचालन कार्य एसडीएम श्रीमती रानी पासी के मार्गदर्शन में किया जावेगा। समारोह स्थल पर प्राथमिक उपंचार की सामग्री एवं चिकित्सक सहित एक एम्बुलेंस सिविल सर्जन द्वारा उपलब्ध करायी जावेगी। फायरब्रिगेड भी उपलब्ध रहेगी । जिला आपूर्ति अधिकारी कटनी द्वारा सभी शालेय छात्र-छात्राओ को मिष्ठान वितरण कराया जावेगा। 16 विभागो द्वारा जिले के विकास कार्यो एवं शासन  की योजनाओं के प्रचार प्रसार हेतु आर्कषण झंकिया  निकाली जावेगी। 
बैठक में समिति सदस्य मिठठूलाल जैन, पंकज शर्मा, सुनील उपाध्याय, मारूफ अहमद हन्फी, श्रीमती अंजू तिवारी, निगमायुक्त एस.के.सिंह, सीएसपी. बी पीसिंह, तहसीलदार बी.के. मिश्रा, उपसंचालक आत्मा जितेन्द्र सिंह सहित सभी विभागो के अधिकारीगण उपस्थित थे। 


Read More

आओ बनाये मध्य प्रदेश सम्मेलन 22 जनवरी को ..

January 06, 2014 0
मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान आयेंगे

कटनी / प्रदेश में तीसरी बार भारी बहुमत से सरकार बनाने के बाद पहली बार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कटनी आ रहे है, आज इस बात की जानकारी कलेक्टर अशोक कुमार सिंह ने लंबित पत्रो की समीक्षा के दौरान दी, सबसे पहले बैठक में प्रदेश सरकार के महत्वकांक्षी विजन आओ बनाये म.प्र. पर उनका ध्यान केन्द्रित रहा क्योकि आओ बनाये म.प्र. सम्मेलन प्रत्येक जिला में आयोजित किये जाने के निर्देश है और इसी कड़ी में इस सम्मेलन को संबोधित करने के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री  शिवराजसिंह चैहान 22 जनवरी को कटनी आयेंगे। अन्त्योदय मेले के तर्ज पर यह सम्मेलन व्यापक रूप में कटनी के झिंझरी में आयोजित करने की योजना है इसमें कटनी रीठी व बड़वारा के अन्त्योदय मेला सामूहिक रूप से आयोजित किया  जायेगा। 
इस सम्मेलन में समाज के प्रत्येक वर्ग जैसे समस्त निर्वाचित प्रतिनिधि- सांसद, विधायक, पार्षद, सरपंच, पंच, जिला पंचायत प्रतिनिधि, जनपद पंचायत प्रतिनिधि, महिलायें, उद्योगपति,अधिवक्ता, चिकित्सक, अध्यापक, व्यवसायी संगठन, कर्मचारी संगठन, निजी एवं शासकीय स्कूलों एवं महाविद्यालयों के शिक्षकों के प्रतिनिधि, जिले के कोटवार,पटवारी,स्वास्थ्य कार्यकर्ता, सहकारी संस्थाओे के अध्यक्ष, निर्वाचित सदस्यों एवं सचिव,, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, पिछड़ावर्ग वर्ग, अल्पसंख्यक के प्रतिनिधियों आदि समस्त एसोसिएशन की सहभागिता को आवश्यक बताया गया है। साथ ही अभी तक जितने भी महापंचायत आयोजित किये गये है उस वर्ग से संबंधित लोगो को भी आमंत्रित करने को कहा। 
बैठक में कलेक्टर ने सभी जिला अधिकारी को निर्देशित किया गया कि वे आओ बनाये म.प्र. सम्मेलन के दौरान शिलान्यास, भूमि पूजन, लोकार्पण की तैयारी अभी से कर ले तथा कल शाम तक इसकी सूची जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी को देने को कहा साथ ही इस सम्मेलन में सभी विभाग की फील्ड स्तर के अधिकारी कर्मचारियों को बुलाने के निर्देश देते हुये कार्यक्रम के एक दिन पहले सभी विभाग के वर्कशाप व टेªनिंग करने के निर्देश दिये। जो विभागीय विजन डाक्यूमेंटस के आधार पर होगा। 
21 जनवरी को कार्यक्रम स्थल झिंझरी  में रोजगार काउसिंलिगं, ऋण शिविर, स्वास्थ्य शिविर तथा पशु चिकित्सा शिविर आयोजित करने के निर्देश है इसी तारतम्य में तिलक कालेज को निर्देशित किया गया  कि विवेकानंद केरियर मार्गदर्शन को वृहद्ध व प्रभावी रूप से करें इसमें समस्त प्राइवेट कालेज, आईटीआई, तथा नर्सिंग को भी सम्मिलित करने को कहा।
बैठक में राज्य बीमारी सहायता व लोकसेवा गारंटी, खाद्यान्न सुरक्षा, न्यायालीन प्रकरण, आशाओं के मानदेय, खेल परिसर के निर्माण, ओलापाला राहत, नल जल योजना, स्वरोजगार योजना, वन्य जीवो सेे फसल हानि तथा जहरीले जीव जंतुओं से जनहानि के प्रकरण,परिवार नियोजन, वन व्यवस्थापन तथा जहां जहां धान का संग्रहण हो रहा है वहां - वहां धान की सुरक्षा व्यवस्था करने के निर्देश दिये। साथ ही मुख्य मंत्री ग्रामीण आवास पर संबंधित प्रकरणो पर अधिकारियों को विशेष ध्यान देने को कहा गया। बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी जेडयू शेख, एडीएम दिनेश श्रीवास्तव सहित समस्त जिला अधिकारी उपस्थित थें। 

Read More

Sunday, January 05, 2014

यातायात नियमों की जानकारी, फिर होगी कार्यवाही - यातायात एवं सड़क सुरक्षा सप्ताह

January 05, 2014 0
कटनी -  जिले में आज पुलिस अधीक्षक राजेश हिंगणकर के निर्देशन में यातायात एवं सड़क सुरक्षा सप्ताह प्रारंभ किया गया है। इस दौरान यातायात एवं पुलिस कर्मियों द्वारा जनता को यातायात नियमों के संबंध में जानकारी दी जायेगी तथा सभी वाहन चालकों को निर्धारित नंबर प्लेट लगाने हेतु निर्देशित किया जायेगा एवं स्कूलों/कालेजों में पुलिस अधीक्षक स्वयं जाकर छात्र/छात्राओं को यातायात संबंधी जानकारी प्रदान करेंगे। दोपहिया वाहन में तीन सवारी बैठाने वालों, आटो में संख्या से अधिक सवारी बैठाने पर सभी को समझाईश दी जावेगी। यातायात सप्ताह समाप्त होने के पश्चात उक्त सभी बातों का उल्लघंन करने पर चालानी कार्यवाही की जावेगी।
यातायात एवं सड़क सुरक्षा सप्ताह के प्रारंभ होने  पर पुलिस अधीक्षक द्वारा यातायात प्रचार वाहन को पुलिस कंट्रोल रूम कटनी से हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया। इस दौरान पुलिस अधीक्षक राजेश हिंगणकर, उप पुलिस अधीक्षक विजय सिंह, नगर पुलिस अधीक्षक बीपीसिंह, निरीक्षक शशिकांत शुक्ला, निरीक्षक राकेश पाण्डेय एवं थाना प्रभारी यातायात सूबेदार रजनी चढ़ार एवं ब्रम्हकुमारी विश्वविद्यालय से लक्ष्मी बहन की उपस्थिति रही। पुलिस अधीक्षक ने जिले के सभी नगारिकों से यातायात नियमों का पालन करने की अपील की है।

Read More